Home / Astrology / Rashifal / kanya Rashifal 2018 | कन्या राशिफल 2018
kanya Rashifal 2018 | कन्या राशिफल 2018
Astrology, Rashifal / By Dr. Deepak Sharma
kanya Rashifal 2018 – कन्या राशिफल 2018, आपका नववर्ष 2018 मंगलमय हो। नए साल में आपके मन में अनेक प्रश्न उठ रहे होंगे यथा कैसा रहेगा यह साल ? पदोन्नति होगी या नहीं ? क्या इस साल शादी होगी ? इत्यादि इत्यादि। आइए ग्रहो की स्थिति के आधार पर आपके प्रश्नो के उत्तर जानने का प्रयास करते है।  नव वर्ष की शुरूआत में गुरु तुला राशि होगा उसके बाद गुरु का गोचर अक्टूबर से वृश्चिक राशि में होगा। शनिदेव सम्पूर्ण वर्ष धनु राशि में ही रहेंगे। राहु और केतु क्रमशः कर्क तथा मकर में सम्पूर्ण वर्ष रहेंगे।
तीव्रगामी ग्रह मंगल 15 जनवरी तक तुला राशि में होगा तथा उसके बाद वृश्चिक में 7 मार्च तक रहेगा इसके बाद 2 मई तक धनु में रहेगा। इसके बाद नवंबर 2018 तक मकर में रहकर 22 दिसम्बर को कुम्भ राशि में भ्रमण करेगा।
उसी प्रकार अन्य ग्रह भी सभी राशियों में संचार करेगा और उसका प्रभाव अल्पकाल के लिए ही सही आपके ऊपर अवश्य पड़ेगा। मेरी कोशिश यही होगी आपके जीवन में आने वाले सभी पहलुओ पर यथा संभव प्रकाश डालें ताकि आपको भविष्य की योजना बनाने में मदद मिल सके। यह भविष्यवाणी चन्द्र राशि तथा वैदिक ज्योतिष के आधार पर किया गया है।
कन्या राशि ( Virgo Sign ) टो,पा, पी, पू, ण, ठ,पे,पो
आइये जानते है नववर्ष 2018 में कन्या राशि के जातको का राशिफल कैसा होगा। वैदिक ज्योतिष पर आधारित भविष्यफल पढ़ने के बाद आप वर्ष 2018 में होने वाली सभी प्रकार के घटना-दुर्घटना से पूर्व में ही परिचित हो जाएंगे और और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है की आप नए वर्ष की पूरी योजना बनाने में सफल रहेंगे।
आप और आपका पारिवारिक जीवन (you and your family Life)
पारिवारिक जीवन के दृष्टिकोण से नया साल आपको मिश्रित फल देने वाला है। परिवार के सदस्यों तथा सगे सम्बन्धियों के साथ रिश्तो में कुछ कड़वाहट होगी। वैचारिक मतभेद होने से तो कोई रोक नहीं सकता। जीवनसाथी के साथ विचारों की लड़ाई हो सकती है परन्तु ज्यादा परेशान होने की जरुरत नहीं है सब अपने आप ठीक हो जाएगा। पत्नी के द्वारा धन लाभ का योग बन रहा है। साल के आरम्भ में यथा मार्च तक अपने क्रोध पर काबू रखे तो आगे के लिए ठीक रहेगा नहीं तो इसका असर सितम्बर मास तक रहेगा।
चतुर्थ भाव में शनि के होने से माता के साथ रिश्तों में भी दरार आ सकता है। प्रॉपर्टी को लेकर विवाद संभव है। इस विवाद में आपको हानि हो सकती है। इसी कारण घर तक छोड़ने की नौबत आ सकती है परन्तु यदि आप न्याय के रास्ते पर रहेंगे तो आपकी जीत होगी अन्यथा समस्या बढ़ सकती है। पिता के साथ आपका सम्बन्ध सामान्य बना रहेगा।
स्वास्थ्य (Health)
पारिवारिक रिश्तों में परेशानी के कारण होने वाले मानसिक तनाव  (Depression) से आपके स्वास्थ्य पर असर पड़ने वाला है। इस वर्ष स्वास्थ्य में उतार-चढाव बना रहेगा यदि शनि की दशा या अन्तर्दशा चल रही है तो निश्चित ही बीमार होंगे और आपकी परेशानी बढ़ेगी। पेट सम्बन्धी शिकायत हो सकती है।
स्नायु सम्बन्धी परेशानी से इंकार नहीं कर सकते। कमर तथा जंघा में दर्द की शिकायत हो सकती है। योग तथा स्वस्थ्य आहार के शरण में जाकर इन परेशानी से बच सकते है। अपने खान-पान पर विशेष ध्यान  दे। यदि आप नशे के आदि है तो साल के शुरुआत में ज्यादा नशा के सेवन के कारण कोई शारीरिक परेशानी आ सकती है।
धन सम्पत्ति (Wealth) 
नए साल में आर्थिक हानि के आप शिकार हो सकते है। लेन-देन के मामले में आपके साथ धोखा-धड़ी हो सकती हैं। अतः पूर्ण रूप से सतर्क रहें। आप अपना काम ईमानदारी के साथ करते रहे सब ठीक रहेगा परन्तु ज्यादा चालाकी आपके ऊपर भारी पड़ सकता है। जल्दीबाजी में कोई फैसला न लें। गलत मित्रो से सावधान रहे। सितम्बर माह तक का समय आपके लिए अनुकूल है । क्या मेरी कुंडली में धन योग है ?
प्रॉपर्टी में निवेश कर सकते है तथा उससे धन कमा भी सकते है। घर में कोई शुभ कार्यो में खर्च हो सकता है। नए साल में वाहन खरीदने का योग है। यदि गुरु ग्रह की दशा चल रही है तो वाहन खरीद सकते है। जातक को बीमा राशि (Insurance Maturity) का लाभ मिल सकता है।
नौकरी (Job / Profession)
इस साल आपको नौकरी में नये मौके प्राप्त होंगे। यदि नौकरी की तलाश में है तो यह बहुत अच्छा अवसर है आपको नई नौकरी मिल सकती है और यह योग अक्टूबर से पहले तक बना है अतः नौकरी के लिए तन मन और धन लगा दीजिये सफलता आपके हाथो में होगा।( when I will get job)
नौकरी में अधिकारियो का सहयोग मिलेगा। परन्तु कार्य का दायरा बढ़ेगा कार्य के सिलसिले में घर से बाहर भी जाना पड़ सकता है । नौकरी में तरक्की ( Promotion) 
व्यापार (Business)
नया साल में व्यवसाय के क्षेत्र में आपको लाभ प्राप्त होगा| व्यवसाय को लेकर आपको यात्रा करना पर सकता है। यदि साझा में व्यापार कर रहे है तो धोडा संभलकर काम करे। आय अधिक होगी और उसकी तुलना में खर्च कम होगा। साल की शुरुआत अच्छी रहेगी।
आपके लिए यह साल व्यापारिक व व्यावसायिक दृष्टिकोण से अच्छा रहने वाला है अतः आप दिलखोलकर कार्य करे। पत्रकारिता तथा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से जुड़े लोगों को इस वर्ष लाभ मिलने वाला है। अक्टूबर माह से आपके कार्यो में विस्तार संभव है । जीवन में थोड़ी बहुत परेशानी तो आती ही रहती है और आएगी भी सकारात्मक सोच रखे सब अपने आप ठीक हो जाएगा।  Business through Astrology
प्रेम तथा यौन संबंध (Love and Sexual Life)
नए साल में प्रेम भाव का स्वामी दूसरे तथा तीसरे भाव में रहेगा अतः प्रेम के मामले में यह वर्ष सामान्य रहेगा। अपनी वाणी पर संयम रखे यह आपके लिए बेहतर रहेगा। यदि प्रेम में सच्चाई नहीं है तो आप अवश्य ही धोखे के शिकार होंगे। प्रेम में प्रमाद /आलस्य रिश्तो के डोर को तोड़ सकता है। वैसे आप इस साल आपके प्रेम संबंधों में स्थायित्त्व का योग बन रहा है। आप प्रपोज़ भी कर सकते है और परिणय -सूत्र ( Love marriage )  में बंध भी सकते है परन्तु यह स्थिति सितम्बर बाद ही संभव है। आप अपने प्रेम भरे जीवन पथ को अपनी व्यावसायिक जिन्दगी से दूर ही रखे तो बेहतर रहेगा।
यौन सुख | Sex happiness
इस साल आप यौन सुख का पूरा आनंद ले सकेंगे। जीवनसाथी का भरपूर सहयोग मिलेगा परन्तु विचारो की लड़ाई के कारण दूरिया भी बढ़ सकती है अब आप पर निर्भर करता है कि आप कितना सामंजस्य बनाकर चलते है। कार्य के बोझ के कारण कभी-कभी निराश होना पड़ेगा। अतः खुद को उस स्थान पर रखकर यदि फैसला लेते है तो मौजा ही मौजा नहीं तो परेशानी ही परेशानी। अवैध सम्बन्धो से बचना आपके लिए श्रेयस्कर रहेगा बाकि तो आपकी मर्जी।
क्या करें क्या न करें (What to do or not)
  1. अपने विवेक का परिचय देते हुए पारिवारिक समस्या को अपने से बड़ो के ऊपर छोड़ देना ही उचित रहेगा।
  2. संतोष और धैर्य का परिचय देना ठीक रहेगा।
  3. भावना में आकर फिजूल खर्च न करें।
  4. यात्रा में सावधानी बरते अच्छा रहेगा।
  5. कन्या राशि वालो के लिए मंगल ग्रह ठीक नहीं है अतः आपको नियमित रूप से सम्पूर्ण वर्ष हनुमान चालीसा का पाठ करना शुभ रहेगा और यदि शारीरिक कष्ट है तो बजरंगबाण का पाठ करें।
  6. आपकी कुंडली में सूर्य ग्रह अच्छा नहीं है और यदि आपको नुकसान ज्यादा हो रहा है या मान-सम्मान में कमी महशुस कर रहे है या सूर्य की महादशा या अंतरदशा चल रही हो तो उन्हें नियमित रूप से सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए तथा सूर्य स्तुति का पाठ करना चाहिए ।
  7. यदि शुक्र की महादशा चल रही हो तो शुक्रवार को गाय को खीर अवश्य खिलाये।
  8. यदि गुरू की महादशा चल रही है तो गुरूवार का व्रत ( Thursday Fasting Vrat ) करना चाहिए।
नवग्रह शांति हेतु पढ़े
  सूर्य
  चन्द्रमा
  मंगल
  बुध
  बृहस्पति
  शुक्र
  शनि
  राहु
  केतु
Previous PostNext Post
Related Posts
How can Astrology help in Health, Eye and Heart Troubles
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
How can Astrology help in Health, Eye and Heart Troubles. Astrology can help through strotra, mantra, gemstone etc.  In the  Valmiki  Ramayan  you  must  have read…
SURYA STUTI
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
Surya  Stuti is very  powerful mantra it can recite by everyone. recitation of these 12 Strotra’s  Stuti is good for health, sound, age, knowledge, respect…
How Your 9 Planets give you Fortune
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
How Your 9 Planets give you Fortune. Most of us know that nine planets (नवग्रह) are responsible for all the fortunes and misfortunes in our…
What is Mangalik Dosh
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
What is Mangalik Dosh ? Affliction of  Mars in the horoscope known as a Mangalik dosh horoscope. It is caused by placement of Mars in…
3 thoughts on “kanya Rashifal 2018 | कन्या राशिफल 2018”
MADHU
24/09/2016 AT 5:25 PM
Hello Sir, my dob is 20-08-1985 at 11:50am Tuesday at Cuttack, Odisha. Sir kindly guide me what to do as I am going into depression due to no improvement in my career and settlement. What do I need to do? Appreciate your guidance. Thank you, Regards, Madhu
Reply
PUSHKAR SINGH MEHRA
25/12/2017 AT 10:20 AM
sir meri D.O.B 17-09-1993 H sham ke 6:00 pm ko delhi me huwa h sir meri job kab tak lag shakti h
Reply
PRATIKSHA SINGH
02/01/2018 AT 5:30 AM
Sir kaisa rahega mera job ko leke ye saal…..
Reply
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *
         
Copyright © 2022Astroyantra | Powered by Cyphen Innovations