Home / Astrology / Rashifal / Dhanu or Sagittarius Rashifal 2022 | धनु राशिफल 2022 – Astroyantra
Dhanu or Sagittarius Rashifal 2022 | धनु राशिफल 2022 – Astroyantra
Astrology, Rashifal / By Dr. Deepak Sharma
Dhanu or Sagittarius Rashifal 2022 | धनु राशिफल 2022. नववर्ष 2022 की हार्दिक शुभकामनाएं। आप अपना जीवन सुखपूर्वक बिताएं यही मेरी हार्दिक कामना है। नए साल के प्रारम्भ के साथ ही आप सोच रहे होंगे कि वर्ष 2022 मेरे लिए कैसा रहेगा क्या मेरी मनोकामना पूर्ण होगी, नौकरी या पदोन्नति मिलेगी, व्यापार में लाभ होगा या नहीं, परीक्षा का परिणाम अच्छा आएगा , शादी होगी इत्यादि इत्यादि ।
धनु राशि नामाक्षर :-   ये,यो,भ,भा,भी,भू,भे,ध,फ,ढ़
Dhanu or Sagittarius Rashifal 2022
धनु राशि की जीवन यात्रा संघर्ष में रहती है आप एक योद्धा की तरह अपनी जीवन यात्रा पूरा करते हैं। ऐसा जातक सामान्य रूप से प्रसन्न रहते हैं साथ ही स्पष्ट वक्ता, मिलनसार, भयमुक्त, विश्वासी और अन्वेषी होते हैं। ऐसे लोग दूसरे के लिए आकर्षण का केंद्र बनते हैं। आप आध्यात्मिक जीवन भी व्यतीत करते है।
इसी प्रकार अन्य ग्रह भी सभी राशियों में संचार करेगा और उसका प्रभाव आपके जीवन यात्रा के ऊपर अवश्य ही पड़ेगा। मेरा प्रयत्न होगा की आपके जीवन में आने वाले सभी पहलुओ पर यथा संभव प्रकाश डालें ताकि आपको भविष्य की योजना बनाने में मदद मिल सके। यह भविष्यवाणी चन्द्र राशि तथा वैदिक ज्योतिष के आधार पर किया गया है।
धनु राशिफल 2022 के लिए ग्रहों की स्थिति
वर्ष की शुरुआत में गुरु कुंभ राशि (मकर राशि में बृहस्पति का गोचर) में होगा और 13 अप्रैल को मीन राशि में प्रवेश करेगा और पूरे वर्ष इसी राशि में रहेगा। गुरु आपकी की राशि से परिश्रम और सुख स्थान में होंगे। शनि मकर राशि में रहेगा (शनि का मकर राशि में गोचर) लेकिन 29 अप्रैल को कुंभ राशि में जाएगा और 12 जुलाई को फिर से मकर राशि में आ जाएगा और पूरे साल इसी राशि में रहेगा। शनिदेव आपके धन स्थान में गोचर में होंगे।
आइये जानते है नववर्ष 2022 में धनु राशि के जातकों का राशिफल कैसा होगा। वैदिक ज्योतिष पर आधारित भविष्यफल पढ़ने के बाद आप साल 2022 में होने वाली सभी प्रकार के घटना-दुर्घटना से पूर्व में ही परिचित हो जाएंगे और आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है की आप नए वर्ष की पूरी योजना बनाने में सफल रहेंगे।
Dhanu or Sagittarius Rashifal 2022
पारिवारिक जीवन  | Family Life
यह वर्ष आपको नई उचाईयों पर ले जाने वाला होगा त्रिकोण भाव का स्वामी गुरु तृतीय भाव में बैठा है और सप्तम दृष्टि से अपने भाग्य स्थान को देख रहा है। आपको संतान पक्ष से शुभ समाचार मिल सकता है। बच्चो की नौकरी लग सकती है। आपका संतान व्यवसाय हेतु आपसे सहायता मांगेगा आप इसके लिए तैयार रहे तो शुभ रहेगा। यदि आपकी कुंडली में गुरु अशुभ ग्रह अथवा अशुभ भाव के स्वामी के साथ बैठा है और गुरु की दशा भी शुरू हो रही है तो सतर्क हो जाए पारिवारिक परेशानी बढ़ेगी। आपको घर छोड़ने की नौबत तक आ सकती है।
गुरु चतुर्थेश होकर मध्य अप्रैल मास तक आपके तृतीय भाव में होगा उस समय तक पारिवारिक परेशानी आ सकती है जमीन-जायदाद की खरीद-विक्री हो सकती है अतः कोई भी फैसला सोच समझकर अपने परिवार के वरिष्ठ सदस्यों के साथ सामंजस्य बनाकर ही ले।
पारिवारिक जीवन में जीवनसाथी के साथ वैचारिक मतभेद संभव है। दाम्पत्य जीवन में कुछ उतार-चढ़ाव भी आएगा परन्तु परेशान होने की आवश्यकता नहीं है जीवन है तो उतार-चढ़ाव जरुरी है। जीवनसाथी के साथ मधुर संबंध बने रहेंगे। किसी बड़े सपने को लेकर तनाव हो सकता है। यथार्थ में जीने का प्रयास करे। भाई -बंधू के साथ तनाव हो सकता है। घर में माता अपनी चलाने की कोशिश करेंगी। पुराने घर में सौदर्यीकरण संभव है। पिता के साथ संबंध अच्छे रहेंगे, परन्तु माता के साथ विभेद संभव है।
धन सम्पत्ति (Wealth)
साल 2022 में धन संपत्ति की स्थिति सामान्य से बेहतर रहने की उम्मीद है। मई माह से धन के मामलो में वृद्धि संभावित है। कोई नए कार्य करने से धन लाभ का योग बन रहा है। पैतृक संपत्ति का लाभ मिल सकता है। यदि कोई फिक्स्ड डिपॉज़िट है या जीवन बीमा पूर्ण हो रहा है तो उसका लाभ मिलने वाला है। अपने कार्यों के प्रति पूर्ण समर्पित रहे धन लाभ में कोई बाधा नहीं आएगी और लाभ ही लाभ होगा।
Dhanu or Sagittarius Rashifal 2022 नौकरी (Job / Profession)
नौकरी की इच्छा रखने वालें लोगों के लिए वर्ष 2022 विशेष रूप से यादगार बन कर आने वाला है । यदि बुध आपकी जन्मकुंडली में तीसरे, सप्तम अष्टम या एकादश भाव में स्थित है तो निश्चित ही आपको नौकरी मिलेगी। आप नौकरी ज्वाइन करने की तैयारी शुरू कर दें। परिश्रम पूर्वक अपना कर्म करें भाग्य के भरोसे न रहें अवश्य ही कर्म का लाभ मिलेगा। When I will get job ?
यदि आप नौकरी बदलना चाहते है तो अप्रैल के बाद बदल सकते है। जिस स्थान पर आप  कार्य कर रहे है वहां आपके कार्य कुशलता से अधिकारी तथा सहकर्मी  बेहद खुश होंगे। नौकरी भाग्य वृद्धि का जरीया बनेगा । आपकी आय में वृद्धि होगी। अधिकारियों के साथ बेहतर संबंध बनाकर रखने से लाभ होगा।
व्यवसाय (Business)
व्यापार की दृष्टि से इस साल में बेहतर लाभ मिलने वाला है। कृपा कर जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें। लाभ और हानि दोनों का विश्लेषण करने के बाद ही कोई निर्णय लेना उचित होगा। कारोबार के मामले में कोई भी फ़ैसला लेते समय पूरी सावधानी बरतें नहीं तो आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है। व्यवसाय वृद्धि में परिवार के सदस्यों की सहभागिता फायदेमंद होगा। जानें ! राहु गोचर का आपके राशि पर क्या प्रभाव पड़ेगा 
यदि आप ग़ैरकानूनी तरीक़ों से धन कमाने की कोशिश करेंगे तो अनजाने में भी ऐसा नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से लाभ के स्थान पर नुकसान हो सकता है। आप ऐसे चक्रब्यूह में फंस जाऐंगे कि वहाँ से निकलना मुश्किल होगा। किसी भी तरह के आर्थिक मामलों में पारदर्शिता बनायें रखें। व्यापार में माता का आशीर्वाद लेना न भूलें। Business through Astrology
प्रेम तथा यौन सम्बन्ध (Love &Sexual Relationship)
आपके प्रेम-रोमांस भाव का स्वामी मंगल है अतःआपके ऊपर प्यार का भूत सवार रहेगा। मार्च अप्रैल जून जुलाई में मंगल की गोचर से आप में प्यार का ऐसा खुमार चढ़ेगा की उसे जिंदगी भर नहीं भूलेंगे। प्यार में कामुकता बढ़ेगी मर्यादा का ध्यान रहें नहीं तो यह खतरनाक साबित हो सकता है। रिश्तों के बीच किसी प्रकार के अविश्वास नहीं आने दें। रिशतों को बनाएं रखना ही बेहतर विकल्प होगा। इस साल यौन सुख का भरपूर आनंद उठाने वाले हैं। जीवनसाथी का पूरा सहयोग मिलेगा। अवैध सम्बन्ध की ओर आपका झुकाव रहेगा इससे बचना चाहिए । क्या, मेरी कुंडली में प्रेम विवाह लिखा है ?
स्वास्थ्य (Wealth)
यदि आपकी जन्मकुंडली में शुक्र या बुध की दशा वा अन्तर्दशा चल रही हैं तो आप अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहें। दूषित रक्त और दूषित भोजन जनित रोग होने की संभावना है। अपने अच्छे स्वास्थ्य के लिए अशुद्ध खानपान से दूरी बनाकर रहें। खान-पान पर ध्यान दें, वरना लिवर में कुछ दिक्क़तें हो सकती हैं अतः इसके प्रति गंभीर रहें और ज़्यादा तेलयुक्त आहार लेने से बचें।
सर्वाइकल के कारण आप कुछ ज्यादा परेशान रह सकते है। मूत्राशय से सम्बन्धित कोई बीमारी होने की आशंका है। पैर में तकलीफ हो सकती है चोट भी लग सकती है। यदि बृहस्पति की दशा चल रही है तथा गुरु ग्रह पर अशुभ ग्रह की दृष्टि या युति है तो चीनी (Sugar) या लिवर(Liver) सम्बन्धित शिकायत हो सकती है। वाणी दोष के कारण मानसिक व्याघात हो सकता है।
क्या करें क्या न करे | What to Do or Not 
  1. अपने क्रोध को अपने पास ही रखे इसका इस्तेमाल अन्य के लिए न करे अन्यथा नुक्सान हो सकता है।
  2. समस्या आने पर धैर्य से काम लें तथा किसी अनुभवी बुज़ुर्ग व्यक्ति का सहारा लेना न भूलें। आपको पोखराज या
  3. टोपाज रत्न को धारण करना चाहिए ।
  4. भाग्य वृद्धि के लिए माणिक रत्न ( Ruby Gemstone) धारण करना अच्छा रहेगा।
  5. यदि शनि की दशा चल रही है तो प्रतिदिन पीपल में जल देना शुभ रहेगा।
  6. यदि आप धन लाभ चाहते हैं तो श्री सूक्त का नियमित पाठ करें आपके लिए शुभ रहेगा।
Previous PostNext Post
Related Posts
How can Astrology help in Health, Eye and Heart Troubles
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
How can Astrology help in Health, Eye and Heart Troubles. Astrology can help through strotra, mantra, gemstone etc.  In the  Valmiki  Ramayan  you  must  have read…
SURYA STUTI
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
Surya  Stuti is very  powerful mantra it can recite by everyone. recitation of these 12 Strotra’s  Stuti is good for health, sound, age, knowledge, respect…
How Your 9 Planets give you Fortune
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
How Your 9 Planets give you Fortune. Most of us know that nine planets (नवग्रह) are responsible for all the fortunes and misfortunes in our…
What is Mangalik Dosh
Astrology / By Dr. Deepak Sharma
What is Mangalik Dosh ? Affliction of  Mars in the horoscope known as a Mangalik dosh horoscope. It is caused by placement of Mars in…
Leave a Comment
Your email address will not be published. Required fields are marked *
         
Copyright © 2022Astroyantra | Powered by Cyphen Innovations